Home राष्ट्रीय अध्यात्मिक गुरु भय्यू महाराज ने गोली मारकर की खुदकुशी

अध्यात्मिक गुरु भय्यू महाराज ने गोली मारकर की खुदकुशी

332

अध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज (50) ने एक सनसनी घटनाक्रम के तहत मंगलवार को गोली मारकर खुदकुशी कर ली। उन्हें इंदौर के बॉम्बे अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उससे पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी।

बॉम्बे अस्पताल के सीएमओ के मुताबिक वहां पहुंचने से आधा घंटे पहले ही भय्यू महाराज की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने घटनास्थल को सील कर दिया है। घटना की सूचना मिलते ही सैकड़ों की संख्या में उनके समर्थक अस्पताल पहुंच गए।
मौत से कुछ समय पहले ही उनके ट्‍विटर हैंडल से ट्‍वीट हुआ था।

उल्लेखनीय है कि कुछ समय पहले मध्यप्रदेश सरकार ने चार अन्य संतों के साथ उन्हें राज्यमंत्री का दर्जा दिया था, लेकिन उन्होंने इस पेशकश को ठुकरा दिया था।

कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रभारी माणक अग्रवाल ने लगाया है कि भय्यू महाराज सरकार के दबाव में थे। सरकार चाहती थी कि वे उसके लिए काम करें, लेकिन भय्यूजी महाराज सरकार के लिए काम नहीं करना चाहते थे। सरकार उन पर दबाव बना रही थी। अत: मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए।

भय्यू महाराज के आश्रम में आने वाले पहले वीआईपी महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख थे। उनके बाद देश के कई बड़े नेता, अभिनेता, गायक और उद्योगपति उनके आश्रम आ चुके हैं। इनमें पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, पीएम नरेंद्र मोदी, शिवसेना के उद्धव ठाकरे और मनसे के राज ठाकरे, लता मंगेशकर, आशा भोंसले, अनुराधा पौडवाल, फिल्म एक्टर मिलिंद गुणाजी भी शामिल हैं।
पीएम बनने के पहले गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में मोदी सद्भावना उपवास पर बैठे थे। तब उपवास खुलवाने के लिए उन्होंने देश भर के शीर्ष संत, महात्मा और धर्मगुरुओं को आमंत्रित किया था। उसमें भय्यू महाराज भी शामिल थे।

Comments